गणेश जी की आरती Ganesh Ji ki Aarti in Hindi - Ganesh ji ki Aarti

सभी विघ्न दूर करने के लिए गणेश भक्त बप्पा विघ्नहर्ता की पूजा-अर्चना करते हैं साथ ही उनकी मंगल आरती भी गाते है। 

Ganesh-Ji-ki-Aarti-in-Hindi-Ganesh-ji-ki-Aarti

गणेश जी की आरती Ganesh Ji ki Aarti in Hindi


जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश देवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा।।

एकदंत, दयावन्त, चार भुजाधारी,
माथे सिन्दूर सोहे, मूस की सवारी। 

पान चढ़े, फूल चढ़े और चढ़े मेवा,
लड्डुअन का भोग लगे, सन्त करें सेवा।।

जय गणेश, जय गणेश, जय गणेश, देवा।
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा।।

अंधन को आंख देत, कोढ़िन को काया,
बांझन को पुत्र देत, निर्धन को माया। 

'सूर' श्याम शरण आए, सफल कीजे सेवा।।
जय गणेश जय गणेश जय गणेश देवा
माता जाकी पार्वती, पिता महादेवा।

दीनन की लाज रखो, शंभु सुतकारी।
कामना को पूर्ण करो जय बलिहारी।
 

Post a Comment

Previous Post Next Post