Anupama in Angry Mood - Anupama 15th September 2021 EP 368

Anupama 15th September 2021 - Today's Episode 368 review and written update in Hindi

नुपमा में अभी तक आपने देखा की अनुज को बापूजी ले आते सुबह सुबह घर और हो जाता है शाह फॅमिली में ड्रामा शुरू ! वनराज ने खुद किया वो चलेगा पर अनुपमा किस और मर्द से कोई नाता न रखे.. क्यों भला !!   

अनुपमा का आज का एपिसोड 368 पढ़िए - उमा के साथ !! 

Today's Episode 368 review and written update in Hindi

Anupama in Angry Mood - Anupama 15th September 2021 EP 368



अनुज ने दिया अनुपमा को उपहार!!

अनुज और उसके काका शाह परिवार के साथ नाश्ता का आनंद लेने के बाद, काका अनुज को इशारे से अनुपमा को गिफ्ट देने के लिए कहते है।  सबके होश उड़ जाते है ये देख के अनुज अनुपमा के लिए अपनी माँ की कोई चीज़ आया है।  गिफ्ट खोलने पे पता चलता है की बॉक्स में घुंगरू है जो अनुज की माँ ने अपने लिए बनवाये थे पर कभी पहन न सकी। 

अनुपमा इतना पवित्र उपहार अपने माथे से लगाती है। 

वही वनराज याद करता है की उसने न जाने कितनी बार अनुपमा को घुंगरू के लिए टोका है और उनको तोडा भी था। 

बिसनेस प्रपोजल की अनाउंसमेंट !!

वनराज और काव्या के बहुत ज़ोर देने पर अनुज बताता है की किसका बिज़नेस प्रोप्सल एक्सेप्ट हुआ और किसका हुआ फ़ैल। 

अनुज एक प्रिंट निकलवाता है और पेपर अनुपमा के हाथ में देते हुए कहता है की  तुम्हारा आईडिया बहुत यूनिक है जिससे पैसे के साथ दुआ भी कमाएंगे।  अनुपमा ये प्रोजेक्ट सभालेगी और अनुज लगाएगा अपना पैसा। 

वनराज और काव्या दोनों शॉक हो जाते है की आखिर ऐसा केसे हुआ की हमारी क्वालिफिकेशन पर एक थेपले बनाने वाली भारी पड़ गई। 


वनराज और अनुपमा की कहासुनी !!

वनराज अपने बिज़नेस प्रपोजल का फेलियर झेल नहीं पता है और उतर जाता है छिछोरेपन पर। 

जहा सभी लोग अनुपमा की ख़ुशी में खुश है वही वनराज , काव्य , बा और तोषु है अनुपमा से गुस्सा। 

वनराज अनुज और उसके काका के जाने के बाद सबके सामने अनुपमा को मिले प्रोजेक्ट का श्रेय, अनुज का अनुपमा को लेकर कॉलेज टाइम के प्यार को देता है। 

बिज़नेस पप्रपोजल में कहा दम था। 

टूट जाता है अनुपमा के सब्र का बांध। 

अनुपमा वनराज को उसकी गलतियां गिनाते हुए कह देती है खुद ने जो किया उसके बाद मेरे बारे में कुछ कहने हिम्मत कैसे हुई।  

अगर ये कॉन्ट्रैक्ट मेरे बदले आप लोगो को मिलता तो कोई कुछ नहीं कहता न ही कोई प्रॉब्लम होती। 

सही में यार, कितना दोगलापन है लोगो में। 

कल क्या होगा !

अनुपमा क्या फैसला लेगी ??

दोस्तों, जिस तरीके से वनराज और अनुपमा की बहस हुई है मुझे नहीं लगता की अनुपमा को किसी की भी बात मान लेनी चाहिए। 

आज उसके सवाभिमान को ठेस पहुंची है। 

अनुपमा को अपनी काबिलियत दिखाने कोई और मौका नहीं मिलेगा।

मुझे ऐसा लगता है इस प्रोजेक्ट के लिए बापूजी, समर, किंजल और पाखी तो पक्का साथ देंगे अनुपमा का। 
 
क्या सच में अनुपमा ना तो नहीं कर देगी अनुज को !!

Post a Comment

Previous Post Next Post