Anuj Ne Khole Dil Ke Raaz - Anupama

रिव्यु और रिटेन अपडटेस हिंदी में - अनुपमा | अपकमिंग एपिसोड 381 | रुपाली गांगुली

    

Anuj-Ne-Khole-Dil-Ke-Raaz---Anupama-Episode-381-30th-September-2021


काव्या और अनुपमा को हुई चिंता !!

वनराज और अनुज, दोनों ही गरम मिज़ाज़ के है ये सबको पता है। 

जब बहुत देर तक अनुज और वनराज नहीं आते, तो दोनों को चिंता हो जाती है की ऐसा क्या हुआ की ये दोनों वाशरूम अभी तक आये नहीं। 

तभी काव्या को बुरा ख्याल आता है की दोनों आपस में हाथापाई पर उतर आये है और बीच बचाव करने में अनुज काव्या के गाल पर ज़ोर से थपड मार देता है। तुरंत काव्या को होश  वो अनुपमा के पास जाकर उन दोनों ढूंढने  के लिए बोलती है।

नंदनी है आने वाले कल से अनजान !!

नंदनी को रोहन ने इस तरह से डरा दिया है की वो बुरी तरह से सहम गई है।

बा को सब बता देने धमकी दे कर रोहन ने नंदनी की नींदे हराम कर दी है। आने वाले कल में क्या होने वाला है वही सोच कर किंजल और नंदनी दोनों परेशान है और इंतज़ार है तो बस अनुपमा के वापस आने का। 

बा की निगाह नंदनी  फोटो पर पड़ती इससे पहले किंजल आके लाइट्स बंद करके बा को उनके कमरे में ले जाती है।       

रिलेटेड: अनुपमा ने बनाया वनराज को अजनबी  

वनराज और अनुज का याराना!!

जहा काव्या और अनुपमा दोनों परेशान हो रहे होते है वही वनराज और अनुज का मिज़ाज ही बदल जाता है।  दोनों रंगीन मूड में आ जाते है और डांस फ्लोर पर अपने जलवे दिखाने लगते है।दूर खड़ी अनुपमा और काव्या शॉकेड हो जाते है की आखिर ऐसा कैसे हुआ ?

उन दोनों की हरकत देख के काव्या को अंदाज़ा आ जाता है की उन्होंने ड्रिंक करी हुई है इसिलए ये हाल है। डांस फ्लोर पर दोनों ने अपने आगे किसी को टिकने नहीं दिया और अपने ज़माने के फेमस गानो पर जम कर नाचा गया। 

जब उन दोनों को बहुत देर हो जाती है काव्या वनराज को और अनुपमा अनुज को वह से दूर ले कर जाते है उनको होटल में रात को रुकना भी है तो काव्या रूम बुक करने और अनुपमा को दही लेन भेज देती है। 

वनराज और अनुज एक दूसरे को तू मेरा भाई है , तू मेरा जिगरी है, तू मेरा दोस्त है , जैसे ना जाने क्या क्या बोल रहे होते है और एक दूसरे को गले लगा के चुम भी रहे होते है। 

अनुज की एक्टिंग तो वाकई में गजब ढा रही थी पर वनराज को थोड़ी और मेहनत करनी चाहिए थी। 

अनुज ने खोले अपने दिल के राज़ !!   

अनुपमा को जाते देख अनुज कह उठता है की आई लव अनुपमा।  वनराज चौंक पूछता है क्या ? तो अनुज वापस दोहराता है की मैं अनुपमा से प्यार करता हु।  वनराज कहता है की ये अनुपमा , तोषु की मम्मी , सोरी वाली अनुपमा - इससे कैसे प्यार हो सकता है। 

अनुज कहता है की 26 साल पहले ये दिया जला था और बुझाने से ये नहीं बुझा। 

वनराज अनुज को  पूछता है की मुझे ये प्यार क्यों नहीं हुआ मैंने तो उसके साथ 25 साल बिताये है मुझे क्यों प्यार नहीं हुआ। 

अनुज वनराज को अपने प्यार होने  दिन और समय दोनों बताता है  और कहता है की वो उससे पीछे रह गया। वो स्कूटर से अनुपमा के घर पंहुचा लेकिन वनराज घोड़ी लेकर पहले ही पहुंच गया था। 

वनराज अनुज से सवाल करता है की क्या उसे जलन होती है (वनराज से ), अनुज कहता है की नहीं , वनराज बोलता है तुझे जलन नहीं होती , अनुपमा को जलन नहीं होती तो ये साले वनराज को क्यों होती है ?

अनुज कहता है की कॉल लगा के पूछ - और दोनों ज़ोर से हसने लगते है। 

अनुज को वनराज के सामने अपने दिल के राज़ खोल कर अच्छा भी लग रहा होता है लेकिन वो ये सब नशे में कर रहे है उन्हें नहीं पता। 

क्या होगा जब दोनों को आएगा होश ? 

क्या वनराज तोड़ेगा सारी हदें !!  

आपको क्या लगता है - क्या होगा वनराज और अनुज के बीच ? क्या दोस्ताना बना रहेगा या धुल जायेगा अगली सुबह के साथ ? देखते है अगले एपीसोड में !!

अगर आपको मेरा ब्लॉग पसंद आये तो प्लीज सब्सक्राइब जरुर करीये। 

पढ़ने के लिए धन्यवाद् !!

उमा धीमान 

Post a Comment

Previous Post Next Post