Anupama 21st October 2021 Written Update - Anupama Anuj Banenge Best Couple EP 400

अनुपमा 21 अक्टूबर 2021 रिटन अपडेट इन हिंदी - अनुपमा अनुज बनेंगे बेस्ट कपल 

Anupama-21st-October-2021-Written-Update-Anupama-Anuj-Banenge-Best-Couple-EP-400

अनुपमा सीरियल में अभी तक हमने देखा की कैसे अनुज रोहन से अनुपमा को बचता है और उसे नंदनी की जिंदगी से दूर रहने की धमकी देता है। 

अनुज अपनी शर्ते रोहन से मनवा लेता है और समर नंदनी को बाहर बुलाकर उनके सामने रोहन माफ़ी मांगता है। अनुज समर को फ़ोन करके बाहर आने के लिए बोलता है और तोषु उसकी बात सुन लेता है।  वह पुरे परिवार को साथ लेकर पंडाल के बाहर आ जाते है। 

रोहन का बदला रूप सबको चौंका देता है।  रोहन अनुपमा से भी माफ़ी मांगता है की मैंने आप को नुकसान पहुँचाने की कोशिश की थी लेकिन अनुज ने आपको बचा लिया और मुझे समझाया भी। 

सारी बातें ख़तम होने के बाद बा, अनुज का धन्यवाद करती है और उसको बाहर वाला कहकर वह से जाने के लिए बोल देती है। 

अनुज चुप चाप सब कुछ समझते हुए वहा से निकल जाता है और गोपी काका से कहता है की वह इसिलए यहाँ नहीं आना चाहता था। वह कहता है अब से ना हम यहाँ आएंगे ना किसी को अपने घर बुलाएँगे। 

उधर सब लोग डांडिया खेलने अंदर चले जाते है। वनराज अनुपमा को चेतावनी देता है की अनुज को मेरे बच्चो से दूर रखो। वह उनका बाप बनने की कोशिश न करे क्योकि वह अभी जिन्दा है।

देविका ये सब देख और सुन रही थी, वह अनुपमा के पास जाकर कहती है की जो कुछ हुआ वह बहुत गलत था। बा को ऐसे अनुज को नहीं बोलना चाहिए था।  तुम लोगो का काम निकल गया तो उस बेचारे को निकल कर बाहर फेक दिया।  ये कैसी दोस्ती है ? दोस्ती सीखनी है तो अनुज से सीखनी चाहिए !

अनुज ने जो किया वो बहुत बड़ी चीज़ है और उसके सामने उसको क्या मिला अपमान ? अगर उसे भगवान नहीं समझ सकते तो काम से काम उसे इंसान तो रहने दो !अनुपमा को देविका बहुत सारा सुना देती है और वहां से चली जाती है। 

अनुपमा भागकर अनुज की गाड़ी के सामने आ जाती है, अनुज चौंक जाता है की कहीं कुछ हुआ तो नहीं सब ठीक है न !

अनुपमा कहती है की जो कुछ हुआ उसके लिए माफ़ करो दो और मुझे भी दोस्ती निभाने का एक मौका दे दो।

यह भी पढ़े -

डांडिया का लास्ट राउंड कॉम्पीशन है तो क्या आप मेरे साथ डांडिया खेलोगे। जोड़ी सिर्फ पति पत्नी या गिर्ल्फ्रेंड बॉयफ्रंड की ही नहीं होती दोस्त की भी हो सकती है।  हम लोग जीतने के लिए नहीं अपनी ख़ुशी में खेलेंगे। 

अनुज अनुपमा की बात मानने को तैयार नहीं होता क्योकि वह नहीं चाहता की वो परेशान हो।  अनुपमा कहती है की अगर आप ऐसे ही चले गए तो मैं ज़ादा दुखी हो जाउंगी। 

अनुज अनुपमा की बात मान कर पंडाल में पहुँचता है।  सभी फटी आँखों से देखते रह जाते है। 

क्या होगा अनुज के दुबारा एंट्री मारने का अंजाम ?

क्या कोई टिक पायेगा अनुज अनुपमा की जोड़ी के सामने ?

देखते है अनुपमा के अगले एपिसोड में ! रॉक एन रोल के साथ बने रहने के लिए धन्यवाद ! 

Post a Comment

Previous Post Next Post