Anupama 26th October 2021 Spoiler Alert In Hindi - Kavya Ki Battimizi Padegi Anupama Par Bhari

अनुपमा सीरियल अपडेट 

अनुपमा 26 अक्टूबर 2021 स्पोइलर अलर्ट हिंदी में -  काव्या की बत्तीमीज़ी पड़ेगी अनुपमा पर भारी

Anupama-26th-October-2021-Spoiler-Alert-In-Hindi-Kavya-Ki-Battimizi-Padegi-Anupama-Par-Bhari

Anupama 26th October 2021 Spoiler Alert In Hindi - Kavya Ki Battimizi Padegi Anupama Par Bhari

Written Update

अनुपमा सीरियल में अभी तक आपने देखा की दशहरा वाले दिन अनुपमा और अनुज की दोस्ती तो गहरी हो गई पर अनुपमा अपने ही परिवार और महौले से कट गई। अनुपमा को तकलीफ हो रही है अपनी ही बा के खिलाफ जाने पर और उसने कभी सपने में नहीं सोचा था की बा वनराज की दोस्त से पत्नी बनी काव्या और अनुपमा के केवल दोस्त में इतना अंतर करेंगी। 

अनुपमा के लिए बा को धमकी देना बहुत मुश्किल रहा होगा। उसके दिल पर जो बीत रही है वो तो वही जानती है। एक औरत अपने हक़ की लड़ाई अपनों से लड़ तो लेती है लेकिन परिवार की नजरअंदाज़ी बर्दाश्त नहीं कर सकती। 

जिस परिवार के लिए अनुपमा ने अपनी जवानी, अपनी इच्छाएं, अपना हुनर और अपनेआप को जला डाला वही परिवार उस पर, उसके चरित्र पर ऊँगली उठाये खड़ा है। सच में औरत ही औरत की सबसे बड़ी दोस्त और दुशमन दोनों होती है। 

काव्या का ऑफिस में पहले दिन और उसका अपने गुस्से पर कण्ट्रोल न होना, ले गया उसकी नई उम्मीद और उसकी नई जॉब। जानते है कैसे ?

अनुपमा ऑफिस के लिए घर से निकलती है और काव्या भी संग हो लेती है।  अनुज अपने ऑफिस में अनुपमा के साथ बैठ कर बिज़नेस प्लान कर रहे होते है।  काव्या बिना नौक किये एंटर होती है। अनुज को काव्या का ये अंदाज़ अच्छा नहीं लगता। अनुज के लास्ट टाइम समझाने पर भी काव्या के दिमाग में बात नहीं गई थी शायद। 

काव्या अनुज के साथ फ्रेंडली होने की कोशिश करती है। अनुज उसे दुबारा ऐसे ही उसके ऑफिस में चले आने से मना कर देता है और बाहर वेट करने बोलता है और प्रोजेक्ट हेड अनुपमा है तो नेक्स्ट टाइम से उससे ही डिसकस करने की सलाह देता है। 

थोड़ी देर में अनुज काव्या को अपने ऑफिस में बुलाता है।  काव्या अनुज के सामने अपने मार्केटिंग प्लानिंग के आईडिया शेयर करती है।  अनुपमा को खुश न देख कर वह काव्या को रुकने के लिए बोलता है और अनुपमा को बिना किसी झिझक के अपने बात रखने के लिए कहता है। 

अनुपमा कहती है की डिजिटल मार्केटिंग अच्छा है लेकिन अभी भी बहुत सारी जनता ऐसी है जो मोबाइल का उपयोग केवल गाने या वीडियो कालिंग के लिए करती है तो हमे ऐसे लोगो के बारे में भी सोचना चाहिए। 

अनुज अनुपमा की बात से सहमत होकर काव्या को चन्जेज़ करने के लिए बोलता है। काव्या को लग जाती है अनुज की बात बुरी और उसे वो सारे ताने याद आने लगते है जो वनराज ने उसे दिए थे।  काव्या गुस्से से ऑफिस के बाहर निकलती है और पुरे स्टाफ के सामने अनुज और अनुपमा के बारे में अनाप-शनाप बातें करके वहां बैठे स्टाफ को भड़काने लगती है। 

काव्या नॉन-स्टॉप बुराइयां करे जा रही थी के पीछे अचानक से अनुज आ जाता है और काव्या की बोलती बंद हो जाती है। अनुज काव्या को याद दिलाता है की जॉब देने के वक़्त उससे क्या डील हुई थी। 

अनुज काव्या को पुरे स्टाफ के सामने उसी समय जाने के लिए कह देता है मतलब जॉब से निकल दिया जाता है।  काव्या अपनी गलती के लिए माफ़ी मांगती है और ऐसा करने से मना करती है।  अनुपमा के पास जाके उसे अनुज को ऐसा करने से रोकने  के लिए कहती है।  अनुपमा कहती है की इज़्ज़त चाहे औरत की हो या मर्द की चोट बराबर ही लगती है। 

अनुज के फैसले के लिए मैं कुछ नहीं कह सकती, अनुपमा का ये जवाब सुन कर और अनुज के उसे टाइम वेस्ट न करने की बात पर काव्या अपना असली रंग दिखने लगती है।  अनुज को अनुपमा के हाथ की कठपुतली कहती है  और अनुपमा के प्यार में पड़ कर उसको इतनी बड़ी पोजीशन पर बैठा दिया कहती है। और यहाँ तक कह देती  है की आदमियों की नव्ज़ पकड़ना कोई अनुपमा से सीखे जो घर पे वनराज और ऑफिस में अनुज को पकड़ कर बैठी है। 

काव्या अनुज का अहसान मानने के बजाय उसे ही बदनाम करने पे उतारू हो जाती है।  अनुपमा काव्या को चुप रहने बोलती है वरना उसको अपना हाथ उठाना पड़ेगा, काव्या अनुपमा को आज हाथ उठाने पर  बहुत उकसाती है।  मन तो कर रहा था की आज एक दो चांटे पड़ ही जाने चाहिए थे। 

काव्या बत्तीमीज़ी करके ऑफिस से चली जाती है, अनुज कहता है की अब ये चुप नहीं बैठेगी और घर जाके वनराज और बा के सामने अलग ड्रामे करेगी। अनुपमा घर के माहौल के लिए तैयार रहती है। 

काव्या कैफ़े जा कर वनराज को ऐसे सारी बात बताती है जैसे कांड इसने नहीं उन्होंने किया हो।  वनराज को तो मौके की तलाश ही रहती है। अब वनराज अनुपमाँ पर चिल्लाने वाला है लेकिन क्या अनुपमा पर इसका असर होगा या नहीं देखना है। 

वनराज और बा के लगातार मिलने वाले तानो की अनुपमा को पड़  चुकी है आदत।  कल अनुपमा को अनुज के साथ मीटिंग में जाना है और वनराज सुबह सुबह ही करेगा ड्रामा जिसमे उसे मुँह की खानी पड़ेगी। शहर से बाहर होने के कारन अनुपमा को होगी आने में देर। 

अनुपमा के घर आते ही होगा बा का तांडव शुरू। अनुपमा को अब सच में छोड़ना होगा ये घर, जहा उसका रत्ती भर भी नहीं रहा मान।  

देखते है क्या आने वाला है अनुपमा के अगले एपिसोड में !

रॉक एन रोल के साथ जुड़े रहने के लिए धन्यवाद् !     

और भी अपडेट पढ़िए -

Post a Comment

Previous Post Next Post