Anupama Written Update - Anupama Ne Kavyaa Par Kiya Upkar EP 390

अनुपमा रिटेन अपडेट 9 अक्टूबर 2021 हिंदी में - अनुपमा ने काव्या पर किया जॉब देने का एहसान

Anupama-Written-Update-Anupama-Ne-Kavyaa-Par-Kiya-Upkar-EP-390

वनराज समर को फोन करके उसको बिना इजाजत के शहर से बाहर जाने पर चिल्लाने लगता है। समर कहता है कि यह एक बड़ा मौका मिला है इसलिए वह इसे नहीं छोड़ सकता और फ़ोन काट देता है। वनराज अनुपमा पर चिल्लाता है कि अगर अनुज उसके परिवार को परेशान करेगा तो वह चुप नहीं रहेगा। 

अनुपमा किंजल से वनराज के लिए चाय बनाने के लिए कहती है। घर के काम करके अनुपमा ऑफिस पहुंच जाती है। काव्या भी किसी जरूरी काम का बहाना कर घर से निकल जाती है। वनराज गुस्से में ही भरा हुआ होता है।

यह भी पढ़े - क्या वनराज काव्या बीच बढ़ेंगी दूरियां  

यह भी पढ़े - अनुपमा वनराज का बराबरी का मुकाबला 

अनुपमा देविका से अनुज के ऑफिस में मिलती है। देविका अनुपमा को उससे नफरत करने वालों के खिलाफ लड़ने के लिए प्रोत्साहित करती है और अनुपमा की व्यावसायिक रणनीति की भी सराहना की। अनुपमा ने कहा कि वह किसी से प्रभावित नहीं होंगी और अपने लक्ष्य पर ध्यान देना जारी रखेंगी।

अनुपमा भी देविका के सामने अनुज की सराहना करती है कि अनुज के आने के बाद उसकी जिंदगी बहुत बदल गई है। अनुज ने अनुपमा की बात सुनी और खुश हो गया। अनुपमा सलाह देती है कि हम एक कुकिंग प्रतियोगिता आयोजित करेंते है जिससे हमें अपने व्यवसाय के लिए सर्वश्रेष्ठ शेफ खोजने में मदद मिलेगी। 

अनुज ने कहा कि अनुपमा इस प्रतियोगिता की जज होंगी। अनुपमा कहती है कि अनुज भी अच्छा खाना बनाते हैं इसलिए वह भी इस प्रतियोगिता को जज करेंगे। समर नंदिनी को फोन करके अपनी यात्रा के बारे में बताता है। 

रोहन वही खड़ा होता है और उसे पता चला जाता है कि समर अभी दिल्ली में है। नंदिनी समर के लिए चिंतित हो रही थी, लेकिन समर ने उसे मजबूत रहने के लिए कहा। वहीं वनराज काव्या को फोन कर रहा था, लेकिन उसने फोन नहीं उठाया।

काव्या अनुज के ऑफिस पहुंच जाती है। काव्या अनुज से कहती है कि उसे केवल 5 मिनट चाहिए और वह नौकरी के अवसर के संबंध में बात करना चाहती हैं। अनुज और अनुपमा चौंक जाते हैं। काव्या ऑफिस में अनुज का इंतजार करती है। 

एक ग्राहक वनराज के कैफे में पहुंचता है और उससे अनुपमा की सिग्नेचर डिश परोसने को कहता है। वनराज ग्राहकों पर चिल्लाता है इसलिए सभी ग्राहक कैफे से निकल जाते हैं। मामाजी कैफे में पहुंचते है और समझाते है कि अगर वनराज ऐसे ही गुस्सा करेगा तो कैफे में कोई नहीं आएगा। 

मामाजी कहते है कि अनुपमा की डिश को मेन्यू से हटाना वनराज की सबसे बड़ी गलती है। शेफ वनराज से अनुपमा के पकवान को फिर से मेनू में जोड़ने का अनुरोध करता है। 

उधर अनुज कहता है कि पहले वह काव्या को उसके अनुभव के कारण नौकरी देना चाहता था।  यह अनुपमा का प्रोजेक्ट है इसलिए अगर अनुपमा चाहें तो इस मौके पर वह काव्या को नौकरी के लिए मना कर सकती हैं।

अनुज कहता है कि अगर काव्या इस प्रोजेक्ट पर काम करेंगी तो वह हमेशा उनके करीब रहेंगी। अनुपमा ने कहा कि अगर काव्या अनुज के साथ काम करेंगी तो वनराज को यह बिलकुल पसंद नहीं आएगा। 

दूसरी तरफ वनराज ने शेफ को वहां से जाने के लिए कहा क्योंकि वह कैफे नहीं संभाल सकता। 

अनुज अपने ऑफिस पहुँचता है। काव्या अनुज से उसे नौकरी देने का अनुरोध करती है। अनुज ने कहा कि काव्या बहुत योग्य उम्मीदवार हैं लेकिन वनराज हर समय कोई ना कोई मुसीबत पैदा करता हैं। 

अनुज कहता है अगर वनराज उसके ऑफिस में कोई समस्या पैदा करेगा तो वह काव्या को कार्यालय छोड़ना होगा। काव्या अनुज के प्रति आभार प्रकट करती है। अनुज ने कहा कि अनुपमा ने इस नौकरी के अवसर के लिए काव्या को चुना है और कहा कि यह काव्या के लिए वनराज को नियंत्रित करने का अवसर है।

देखते है क्या होता है अनुपमा के अगले एपिसोड में !

क्या वनराज काव्या के जॉब ऑफर पर अनुपमा को दोषी ठहराएगा ?

क्या अनुपमा वनराज एक बार फिर होंगे आमने सामने ?

रॉक एन रोल पर बने रहने के लिए धन्यवाद् !!

Post a Comment

Previous Post Next Post