Ghum Hai Kisikey Pyaar Mein 23 October 2021 Written Update - Virat Aur Sai Ke Pyar Ka Imtehaan

Ghum Hai Kisikey Pyaar Mein 23 October 2021 Written Update - Virat Aur Sai Ke Pyar Ka Imtehaan

कल के एपिसोड में हमने देखा की विराट साईं को लेकर चव्हाण निवास आता है।

परिवार के लोग साईं को देखकर बहुत खुश हैं, जहाँ भवानी और अश्विनी साईं के लिए स्पेशल मोदक बना रही हैं।

वही चव्हाण परिवार में कुछ लोग ऐसे भी हैं, जिन्हे साईं के घर लौटने से बिलकुल भी खुशी नहीं है। वो साईं को तन्ना मारने से पीछे नहीं हट रहे हैं।

विराट और साईं दोनो ही गणेशजी की पूजा में हिसा लेते हैं और फिर विराट साईं को आराम करने के लिए कह कर अपने कमरे में ले जाने ही वाला होता है, तभी अश्विनी दोनो को रोकती है।

अश्विनी कहती हैं की आज से साईं और विराट एक साथ एक कमरे में नहीं रहेंगे।

साई अब से दुसरे कमरे में रहेगी वो भी अकेले, ये सुन्ते ही सब के होश उड़ जाते हैं, परिवार के सभी लोग अश्विनी को ऐसा फैसला लेने से मन्ना करते है लेकिन वह किसी की नहीं सुनती, अब आगे

Ghum-Hai-Kisikey-Pyaar-Mein-23-October-2021-Written-Update-Virat-Aur-Sai-Ke-Pyar-Ka-Imtehaan

गुम है किसी के प्यार में 23 अक्टूबर 2021 रिटन अपडेट - विराट और साईं के प्यार का इम्तेहान

एपिसोड की शुरुआत में, निनाद अश्विनी से पूछता है कि ऐसा फैसला लेने के पहले उसने किससे सलाह ली। अश्विनी कहती है कि उसने एक विशेषज्ञ से सलाह ली हैं, यह सुन कर हर कोई हैरान हो जाता है।

निनाद कहता हैं कि उसे कम से कम विराट और साई से पूछना चाहिए था कि क्या यह फैसले के साथ सेहमत हैं। अश्विनी कहती है कि उसने यह फैसला उनके भले के लिए लिया है।

विराट कहता है कि उसने कभी भी उनके फैसले पर सवाल नहीं उठाया और उन्होंने काफी सोच-विचार के बाद यह फैसला किया होगा।

साईं भी यही कहती है कि उसे इस फैसले से कोई समस्या नहीं है और वह कहाँ रहेगी यह तय करने का फैसला वो अश्विनी पर छोड़ती है।

तभी पाखी ताना मारती है कि विराट और साईं एक नई मिसाल कायम करेंगे, कि वे एक ही घर में रहेंगे लेकिन अलग-अलग। वह कहती हैं कि वे वैसे भी पहले अलग-अलग सोते थे।

पाखी की यह बात सुन कर हर कोई हैरान हो जाता है।

भवानी पूछती हैं कि इसका क्या मतलब है। पाखी बताती है कि साईं फर्श पर सोती थी और विराट बिस्तर पर। साईं पाखी को अपने और सम्राट के रिश्ते पर ध्यान देने के लिए कहती है।

सम्राट बताता है कि जब वह वापस आया था, तब वह भी अतिथि कक्ष में सोया था, लेकिन साई या विराट ने उस पर कोई टिप्पणी नहीं की और पाखी को भी उसकी सीमा को पार नहीं करना चाहिए।

अश्विनी साई को आराम करने के लिए कहती हैं। फिर भवानी सभी को महाभोज की तैयारी करने के लिए कहती हैं।

सोनाली पूछती हैं कि क्या आज साईं भी खाना बनाने में मदद करेगी? अश्विनी कहती है कि वह कैसे कर सकती है, क्योंकि वह अभी अस्पताल से आई है।

सोनाली कहती है कि साईं को अपना काम करना चाहिए। भवानी कहती है कि सोनाली साईं का काम करेगी, यह सुनते ही सोनाली और ओंकार चौंक जाते हैं। भवानी कहती है कि सोनाली भी इस घर की बहू है, भले ही वह एक अमीर परिवार से हो।

सोनाली कहती है कि अगर वह किचन में जाती है तो उसे सिरदर्द हो जाता है। भवानी कहती है कि उसे वैसे भी खाना पकाने का जोखिम नहीं उठाना चाहिए, लेकिन वह अभी भी उनकी मदद कर सकती है, जैसा कि साईं ने पिछले महाभोज के दौरान किया था।

तभी करिश्मा बताती हैं कि साईं ने अदरक और लहसुन का पेस्ट बनाया था। सोनाली यह सुनते ही उत्तेजित हो जाती है और कहती है कि वह उसकी तुलना साई से न करे।

भवानी कहती है कि वह तुलना नहीं कर रही है, केवल अपना काम दे रही है। वह कहती है कि सोनाली को अपनी जीभ के बजाय केवल हाथ हिलाना है।

ओंकार कहता है कि भवानी को घर छोड़ने के बारे में पहले साईं से बात करनी चाहिए। भवानी ओमकार को डांटती हैं, और कहती हैं कि वह तय करेगी कि साई से कब बात करनी है।

ओंकार कहता है कि सोनाली ने यह सब किचन का काम पहले कभी नहीं किया। भवानी कहती है कि साईं को भी नहीं पता था लेकिन सोनाली ने तब उसे बहुत ताना मारा था।

पाखी कहती है कि वह सोनाली को अच्छी तरह जानती है, तो वह उसे ऐसा काम क्यों दे रही है।

सोनाली कहती है कि करिश्मा उसका काम करेगी। करिश्मा कहती हैं कि उसके पास पहले से ही बहुत काम है और वह पहले से ही भवानी की मदद कर रही हैं। भवानी कहती है कि करिश्मा सोनाली की मदद नहीं कर सकती।

शिवानी अश्विनी को साईं को कमरे में ले जाने के लिए कहती है और कहती है की वह हल्दी वाला दूध कमरे में भेज देगी।

उधर पाखी विराट को देखती है।

साईं अश्विनी को धन्यवाद करती है, कि उसने उसके लिए एक नए कमरे की व्यवस्था की हैं और अब वह खुद कमरा सजाएगी। वह कहती है कि वह अब देर रात तक पढ़ सकती है, क्योंकि विराट वहाँ नहीं होगा।

अश्विनी साई से पूछती है कि क्या उसे अपना पुराना कमरा याद आ रहा है। तभी साई पूछती है कि उसका सामान कहाँ है। अश्विनी कहती है कि उसका सारा सामान यहाँ है और विराट बाद में सारा सामान ले आएगा।

यह भी पढ़े:

विराट को अपने कमरे में साई की मौजूदगी की याद आती है। वह साईं की अलमारी खोलता है, लेकिन वह खाली होती है। वह साईं का सामान खोलता है और उसका दुपट्टा निकालता है। वह अपने पास रख लेता है।

वहीँ दूसरी ओर, साई उस अंगूठी को देखती है जो विराट ने उसे दी थी। वह सोचती है कि विराट बहुत खुश होगा कि वह उसके साथ उसके कमरे में नहीं है।

उधर विराट सोचता है कि क्या उसे साई को वापस अपने कमरे में लाने के लिए अश्विनी से बात करनी चाहिए।

एपिसोड समाप्त

दोस्तों, अगर आपको लिखित अपडेट पसंद आया हो या को सुझाव हो तो प्लीज नीचे कमैंट्स में बताये।

ऐसे ही रोमांचक उपडटेस के लिए बने रहें केवल rocknroll.in पर..

Post a Comment

Previous Post Next Post