Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah - Taarak Ki Wajah Se Iyer Ki Naukri Khatre Mein - Spoiler

Taarak Mehta Ka Ooltah Chashmah - Taarak Ke Wajah Se Iyer Ki Naukri Khatre Mein - Spoiler

Taarak-Mehta-Ka-Ooltah-Chashmah-Taarak-Ki-Wajah-Se-Iyer-Ki-Naukri-Khatre-Mein---Spoiler

तारक मेहता का उल्टा चश्मा - तारक की वजह से अय्यर की नौकरी खतरों में - स्पॉयलर

तारक मेहता का उल्टा चश्मा शो एक बहुत ही दिलचस्प ड्रामा की ओर जा रहा है।

तारक को उसके बॉस से डांट खाने के बाद, तारक बहुत दुःखी है, जबकी जिस जन्म प्रमाणपत्र को घुमाने के वजह से उसे अपने बॉस की डांट खानी पड़ी थी, आखिरी वो प्रमाणपत्र बॉस के पास ही मिलता हैं।

तारक अपने गुस्से को निकालने के लिए बॉस के खिलाफ एक कविता लिखता हैं, तभी उसका बॉस उसके केबिन में तारक को मनाने आता हैं और तारक को कविता लिखते देख कुश हो कर सारे स्टाफ के सामने कविता पढ़ने के लिए कहता हैं।

तारक पुरी कोशिश करता है की कैसे कविता पढ़ने से बचा जाए, लेकिन बॉस भी कुछ कम नहीं, वो अपनी सेक्रेटरी को तारक की लिखी हुई कविता पढ़ने के लिए दे देते हैं।

कविता सुनते ही पूरा स्टाफ हैरान हो जाते हैं और तारक का बॉस उसे गुसा हो जाता हैं और उसे नौकरी से निकालने की बात कह कर अपने केबिन में चला जाता हैं।

तारक खड़े खड़े सोचता है की लोग खुल्हाडी पे पैर मारते हैं, में तो खुद खुल्हाडी पे कूद गया, अब मेरी नौकरी का क्या होगा।

तारक फ़िर जेठालाल जिसको उसने सुभा गुस्से में बहुत कुछ कह दिया था, उसकी मदद के लिए कॉल करता हैं। लेकिन जेठालाल जो तारक के ऐसे व्यवहार के वजह से बहुत दुःखी है, वो तारक का कॉल रिसीव नहीं करता।

तारक जैसे तैसे बाघा की मदद से जेठालाल से बात कर लेता हैं और उससे माफ़ी मांगते हुए अपनी परशानी बताता हैं।

तारक जेठाला के हमशा फायरब्रिगेड रहे हैं, लेकिन आज तारक को उसके परममित्र जेठालाल की मदद की जरूरी है, तो जेठालाल को आइडिया आता है की तारक अपने बॉस को बताये की ये कविता उसने अपने बॉस के लिए नहीं, बाल्की अपने किसी दोस्त के बॉस के लिए दोस्त के कहने पर लिखी थी।

अगर तारक का बॉस उस दोस्त से बात करना चाहे तो इसके लिए जेठालाल अय्यर की मदद लेने के लिए कहता है, जिस पर अय्यर तारक की नौरकी बचाने के लिए हाँ कह देता है।

तारक का बॉस अय्यर से बात करता है और बातों बातों में पता लगता है की अय्यर उस कंपनी में काम करता हैं जहाँ पर उसका स्कूल का दोस्त अय्यर का बॉस है।

यह सुन्ते ही तारक और अय्यर के पैरो तले ज़मीन निकल जाती है।

अय्यर ने ऐसी कविता अपने बॉस के खिलाफ लिखवायी है यह जान कर, क्या अय्यर की भी नौकरी खतरे में आ जाएगी?

क्या जेठालाल इस नई मुसिबत से तारक और अय्यर की नौकरी बचा पायेगा?

या तारक सच बता कर अय्यर की नौकरी बचा लेगा?

प्लीज अपने विचार निचे कमैंट्स में बताये।

ऐसे ही रोमांचक उपडटेस के लिए आप हमारे फेसबुक पेज को फॉलो कर सकते हैं..

यह भी पढ़ें:

Post a Comment

Previous Post Next Post