Ghum Hai Kisikey Pyaar Mein 19 October 2021 written update – Sai Hospital Se Discharge

Ghum Hai Kisikey Pyaar Mein 19 October 2021 written update – Sai Hospital Se Discharge

कल के एपिसोड में सम्राट पाखी को उसकी सच्चाई बताता है, की वो अब भी विराट से प्यार करती है जो उसे पता हैं, लेकिन विराट के न मिलने पर सम्राट से प्यार न होने के बाद भी उसके साथ है।

सम्राट पाखी को बताता है कि उसके लिए उसके परिवार की खुशी सबसे ऊपर है, इस लिए उसे साई से दूर रहना चाहिए और उसके परिवार के खुशीओं का दुश्मन नहीं बनना चाहिए।

वही हॉस्पिटल में साईं विराट से थोड़ा नराज हो जाति है, की विराट उसके साथ अच्छा बरताव तभी करता है जब वो हॉस्पिटल में भरती होती है, जिस पर विराट कहता है की जब भी वह उससे अच्छा बरताव करता है तो साई उसको उसके बुरे बरताव क्यों याद दिलाती हैं।

फिर भी विराट साईं को मन्ना ही लेता है और जैसे-तैसे साईं को प्यार से खाना खिलाता है।

दूसरी ओर अश्विनी डॉ. अंजली से साईं के दिल में क्या है, और वो विराट के बारे में क्या सोचती है, ये सब कुछ पूछती है।

अंजली बताती है की साईं के लिए विराट बहुत ज्यादा मायने रखता है, हो सकता है दोनो एक दूसरे की बहुत परवाह करते हो और प्यार भी करते हो, लेकिन जब तक दोनो साथ है, तब तक उनको एक दूसरे की कीमत नहीं पता लगती।

तभी डॉक्टर साईं को बताता है कि उसे आज ही हॉस्पिटल से डिस्चार्ज मिल जाएगा, लेकिन साईं असमंजस में पड़ जाती हैं कि डिस्चार्ज होने के बाद वह कहां जाएंगी, अब आगे…

Ghum-Hai-Kisikey-Pyaar-Mein-19-October-2021-written-update

गुम है किसी के प्यार में 19 अक्टूबर 2021 रिटन अपडेट - साई हॉस्पिटल से डिस्चार्ज

आज के एपिसोड की शुरुआत में, विराट साई से कहता है कि वह पुलकित और देवी के साथ रह सकती है और जब उसका मन करे तो वापस आ सकती है।

साई कहती है कि वह कोई शटलकॉक नहीं है जो इधर-उधर घूमती रहेगी। उत्तेजित होने पर विराट उसे पानी देता हैं, पानी थोड़ा सा छलक जाता है तो साई विराट पर भड़क जाती है।

विराट कहता है कि वह उसकी निराशा को समझता है, लेकिन वह उसे घर जाने के लिए मजबूर नहीं करेगा। साई पूछती है कि उसने उसे घर जाने के लिए क्यों कहा। वह कहता है कि देवी उसे बहुत प्यार करती है और दुर्घटना के बाद देवी साई को लेकर बहुत दुःखी थी।

विराट उसे बताता है कि देवी ने देखा कि जब भी वे लड़ते हैं और वे एक-दूसरे से दूर हो जाते हैं, तो उनमें से एक गंभीर रूप से घायल हो जाता है।

विराट उसे याद दिलाता है कि जब उसने देवी की शादी करवाई, तब उसे बहुत गुस्सा आया था और उसने उसे घर से बाहर निकाल दिया था, फिर उसे एक मिशन पर गोली लग गई थी।

फिर साई का एक एक्सीडेंट हो गया था जब वे अंजिक्या के लिए लड़े थे और अब फिर से साई का एक्सीडेंट हो गया जब उनके बीच लड़ाई हुई और साई ने घर छोड़ा।

विराट बताता हैं कि यह सब सुनकर परिवार में हर कोई हैरान रह गया था। साईं पूछती हैं कि क्या इसीलिए भवानी ने उनके लिए प्रार्थना की। साईं कहती हैं कि उन्होंने कभी भी देवी को किसी से कम नहीं समझा और वह बहुत होशियार हैं।

विराट पूछता हैं कि क्या वह भी मानती हैं जो देवी ने कहा। अगर वह मानती है तो उसे उसके साथ घर वापस चलना चाहिए। वह कहता है कि उसे उससे कुछ भी उम्मीद नहीं है और वह अपना निर्णय लेने के लिए स्वतंत्र है।

साई इसके बारे में सोचती हैं।

वहीँ निनाद और भवानी ओंकार से कहते हैं कि अतीत को जाने दो और साईं के खिलाफ कोई शिकायत न रखो। सोनाली कहती है कि साईं अब और भी महत्वपूर्ण हो जायेगी।

सम्राट पूछता है कि वे साईं के प्रति इतने कटु क्यों हैं। तभी पुलकित सम्राट को फोन करके बताता है कि साईं को अगले दिन हॉस्पिटल से डिस्चार्ज मिल जाएगा। यह सुन कर सभी खुश होते हैं और गणपति बप्पा को धन्यवाद करते हैं।

पाखी पूछती है कि क्या साईं इस घर में वापस आना चाहती हैं?

उधर हॉस्पिटल में अश्विनी साईं को गले लगाती है और पूछती है कि खाना कैसा था। साईं कहती हैं कि उनका खाना हमेशा अच्छा होता है।अश्विनी खुश है कि बप्पा ने उसे 10 दिनों में ठीक कर दिया और वह 11वें दिन घर वापस आ जाएगी।

साईं अश्विनी को बिना बातये घर छोड़ कर जाने के लिए सॉरी कहती है। अश्विनी कहती है कि वह उसे अपने घर के अलावा कहीं ओर नहीं रहने देगी।

वह साई को बताती है कि जब साई घर छोड़ कर चली गयी तब उसे कैसा लगा था और उसे घायल देखकर वह कितनी आहत और दुःखी हुई थीं। वह साई से कहती है कि वह उसे सरप्राइज देगी। साईं अनुमान लगाती है कि अश्विनी उसका पसंदीदा मोदक उसके लिए बनाएगी।

साईं कहती है कि वह चाहती है कि वह अपनी इच्छा के अनुसार घर जा सके, लेकिन वह ऐसा नहीं कर सकती। वह कहती है कि उसे गढ़चिरौली वापस जाना चाहिए।

अश्विनी उसे बताती है कि उसकी और विराट की किस्मत आपस में जुड़ी हुई है और उन्हें साथ रहना चाहिए। साई कहती है कि दुर्घटना पहले ही हो चुकी है।

अश्विनी पूछती है कि अगर विराट इस बार चोटिल हो जाए तो क्या वह इसे बर्दाश्त कर पाएगी।

तभी विराट प्रसाद लेकर अंदर आता हैं। अश्विनी विराट से कहती है कि साईं ने घर वापस आने का फैसला किया है। यह सुनते ही विराट हैरान हो जाता है, अश्विनी भगवान से प्रार्थना करती है कि वह उन्हें एक दूसरे को करीब लाने में मदद करे।

साईं बिस्तर से उठ जाती है, वह अपना संतुलन खोने वाली होती है की विराट उसे संभाल लेता है। विराट उसका इंतजार न करने के लिए उसे डांटता है। वह उसे चिंता न करने के लिए कहता है और कहता है की सब ठीक हो जाएगा।

उसी समय डॉक्टर वहाँ पर आता है और विराट से उसकी देखभाल करने को कहता है। साई कहती है कि विराट ठीक होने तक उसकी देखभाल करेंगे। साईं सोचती है कि उसके पूरी तरह से ठीक होने के बाद फिर से कहीं विराट उससे बुरा व्यवहार करना तो शुरू नहीं कर देगा।

वहीँ विराट सोचता है कि कौन जाने साईं ठीक होने के बाद कैसा व्यवहार करेगी।

एपिसोड समाप्त

क्या साई अपने घर वापस जाएगी?

क्या साई और विराट एक दूसरे को कितना प्यार करते है यह कभी बता पाएंगे?

अपने विचार प्लीज नीचे कमैंट्स में बातये।

ऐसे ही रोमांचक उपडटेस के लिए बने रहें केवल rocknroll.in पर..

यह भी पढ़े:

Post a Comment

Previous Post Next Post