GHKKPM Written Update - Virat Ka Pyar Laya Sai Ke Chehre Par Muskan

गुम है किसी के प्यार में 12 अक्टूबर 2021 लिखित एपिसोड अपडेट EP 321 - विराट का प्यार लाया साईं के चेहरे पर मुस्कान

GHKKPM-Written-Update-Virat-Ka-Pyar-Laya-Sai-Ke-Chehre-Par-Muskan

एपिसोड की शुरुआत में सम्राट साई की दवाइयां पुलकित को देता है। पुलकित उसे बताता है कि वह कुछ काम से बाहर जा रहा है, और जब तक वह वापस आएगा तब तक साईं पहले से बेहतर हो जायेगी। सम्राट कहता है कि वह और विराट वहां है साई के देखभाल के लिए।

सम्राट विराट से पूछता है कि क्या वह साईं से मिला था। विराट कहता है कि उसने साई से मिलने का अधिकार खो दिया है। सम्राट उसे बताता है कि उसका रिश्ता इतनी आसानी से नहीं टूट सकता।

सम्राट अश्विनी को साईं के कमरे में मजबूत होने के लिए कहता है। साई अपनी आँखें खोलती है। यह देख अश्विनी भगवान का धन्यवाद करती हैं। साईं दरवाजे की ओर देखती है। सम्राट पूछता है कि क्या वह किसी को ढूंढ रही है। साई अपनी पलके झपका कर हाँमि भर्ती हैं।

अश्विनी साई को सिर्फ हां या ना में अपनी पलके झपकाने के लिए कहती है, क्योंकि वह बोलने के लिए अभी बहुत कमजोर है। वह पूछती है कि क्या साई विराट को ढूंढ रही हैं। साई हाँ में अपनी पलके झपकाती हैं। अश्विनी कहती है कि वह विराट को बुलाएगी।

सम्राट अश्विनी को बताता है कि विराट आईसीयू में साई से मिलने से इनकार कर रहा है। अश्विनी उसे बताती है कि विराट झिझक रहा हैं, क्योंकि उसे लगता है कि साईं उससे मिलना नहीं

चाहती।

अश्विनी विराट को अंदर जाकर साईं से मिलने के लिए कहती हैं। विराट कहता हैं कि वह साई से नहीं मिल सकता। वह उसे बताती है कि साईं ने खुद उसे मिलने के लिए कहा हैं। विराट हैरान हो जाता है, लेकिन खुश भी होता है।

विराट को चिंता होती है कि अगर उसे देखकर साई की हालत और खराब हो गई तो क्या होगा। अश्विनी उसे सकारात्मक सोचने के लिए कहती है और उसे अंदर ले जाती है।

विराट आईसीयू में जाता हैं और साईं को देखता हैं। साई भी उसे देखती है। विराट साई से पूछता है कि वह कैसी है और क्या वह उसे सुन सकती है। वह साई से पूछता है कि क्या वह वास्तव में उसे ढूंढ रही थी। साई हाँ में पलके झपकाती हैं।

यह भी पढ़े: विराट की गोद में चव्हाण निवास में साई की एंट्री - पाखी ग़ुस्से से लाल

विराट साई के पास बैठ जाता है और उसका हाथ पकड़ लेता है। साईं कुछ कहने की कोशिश करती है, तो विराट उसे कहता है कि वह खुद को तक्लीफ न दे, क्योंकि वह सब कुछ जानता है।

साई रोने लगती है। विराट उसे दिलासा देता है और उसे कहता है कि वह उसके लिए आंसू न बहाए। साईं की हृदय गति बढ़ जाती है। विराट डॉक्टर को बुलाने के लिए उठता है।

साई उसे रोकने के लिए उसका हाथ पकड़ लेती हैं। नर्स विराट को बताती है कि साई उसे देखकर बहुत भावुक हो गई है और उसे बाहर जाने के लिए कहती है, ताकि साई आराम कर सके।

विराट साई से कहता है कि वह ठीक उसके कमरे के बाहर है और जैसे ही उसे उसकी जरूरत होगी वह आ जाएगा। नर्स उसे जाने के लिए कहती है, ताकि वह साई को इंजेक्शन दे सके।

नर्स साई से कहती है कि विराट उसकी बहुत परवाह करता है और जब से वह यहां आयी है तब से वह ठीक होने की प्रार्थना कर रहा है।

भवानी और अन्य लोग अस्पताल पहुंचते हैं। भवानी सम्राट से पूछती हैं कि साई कैसी हैं। वह उनसे कहता है कि उन्हें अस्पताल में धीरे से बात करनी चाहिए। वह उन्हें साईं के कमरे में ले जाता है।

यह भी पढ़े: भवानी ने हाथ जोड़ कर साई से घर लौटने की बिनती की

भवानी साई से कहती है कि वे उसका परिवार हैं, और वह इस तरह घर कैसे छोड़ सकती है। निनाद कहता है कि वह अपने बूढ़े ससुर को ऐसे कैसे छोड़ सकती है। ओमकार उसे डांटता है, लेकिन मानसी उसे चुप रहने के लिए कहती है।

भवानी साईं से कहती है कि वह बड़े मंदिर गई थी और उसके लिए प्रार्थना भी किया। वह साईं को फूल और प्रसाद देती हैं। शिवानी कहती हैं कि डॉक्टर ही बता सकते हैं कि साईं कब घर वापस जा सकती हैं।

मानसी साई से कहती है कि उसके परिवार के सदस्य उससे प्यार करते हैं और हमेशा उसे प्यार करेंगे। सम्राट साई से कहता है कि यहाँ के डॉक्टर बहुत अच्छे है और चिंता की कोई बात नहीं है।

निनाद साईं से कुछ कहने को कहता है। सम्राट उसे बताता है कि दुर्घटना के बाद साईं बोलने के लिए बहुत कमजोर हैं।

मानसी पूछती है कि क्या दुर्घटना के बाद साईं की आवाज चली गई है। निनाद उसे फिर से अपने बाबा को बुलाने के लिए कहता है। निनाद पूछता हैं कि विराट अंदर क्यों नहीं आया।

सम्राट बताता है कि विराट आया था लेकिन वह बाहर चला गया, ताकि साईं आराम कर सके। निनाद साई से कहता है कि वह हमेशा उस पल को याद करता है जब उसने उसे हारमोनियम उपहार में दिया था।

वह साई से कहता है कि अगर वह उनके साथ रहने के लिए वापस नहीं आती है, तो वह कभी हारमोनियम नहीं बजायेगा।

वह कहता है कि उसे अब साई की कीमत का एहसास हो गया है। वह साईं को एक बार उसे देखने के लिए कहता है, लेकिन साईं सीधे दरवाजे की तरफ दिखती है।

यह भी पढ़े: पाखी ने साई और विराट के मिलन पर आंसू बहाए

एपिसोड समाप्त

क्या पाखी विराट और साई के मिलान से खुश हो पाएगी? या वो कोई और तरीका ढूढेंगी उनको अलग करने के लिए?

अगले एपिसोड में क्या होता है, जानने के लिए बने रहिये rocknroll.in के साथ!

Post a Comment

Previous Post Next Post