GHKKPM Written Update - Virat Sai Ko Khona Nahi Chahta EP 316

घूम है किसी के प्यार में 06 अक्टूबर 2021 लिखित एपिसोड अपडेट - विराट साई को खोना नहीं चाहता

GHKKPM-Written-Update-Virat-Sai-Ko-Khona-Nahi-Chahta-EP-316


एपिसोड की शुरुआत में, देवी रोती है क्यूँकि वह साईं की दुर्घटना के लिए खुदको जिम्मेदार मानती है। पुलकित उसे सांत्वना देता हैं।

दूसरी तरफ - डीआईजी, विराट से पूछता है कि क्या हुआ। विराट उसे बताता है कि साई का एक्सीडेंट हो गया है, और उसकी हालत गंभीर है। विराट, साई को लेकर बहुत चिंतित हो जाता है। डीआईजी उसे अस्पताल ले जाता है।

वहीँ हस्पताल में, डॉक्टर कहते है कि वे साई के पति की सहमति के बिना सर्जरी शुरू नहीं कर सकते।

देवी कहती है कि कोई भी साईं की परवाह नहीं करता है। शिवानी कहती है कि साईं के ठीक होने के बाद वे इस बारे में बात करेंगे। देवी कहती हैं कि क्या हो अगर साईं कभी ठीक नहीं होती।

अश्विनी उसे प्रार्थना करने के लिए कहती है, कि साईं ठीक हो जाए और घर वापस आ जाए। देवी कहती है कि वह साईं को उस घर में कभी वापस नहीं जाने देगी। वह साई के घर छोड़ने के लिए विराट और पाखी को जिम्मेदार ठहराती है।

यह भी पढ़े: क्या विराट सुसाइड करना चाहता है

पाखी उसे अनावश्यक रूप से दोष न देने और विराट और साई के बीच हस्तक्षेप न करने के लिए कहती है। सम्राट, पाखी को परिपक्व व्यवहार करने के लिए कहता है।

शिवानी कहती है कि देवी सही है, लेकिन साईं की दुर्घटना के लिए कोई भी जिम्मेदार नहीं है। अश्विनी, गणपतिजी से प्रार्थना करती है की साई जल्दी से ठीक हो जाए।

उधर - सम्राट, डॉक्टर से अनुरोध करता है कि उसे या अश्विनी को सहमति पत्रों पर हस्ताक्षर करने दें, लेकिन डॉक्टर कहता है कि इसकी अनुमति नहीं है।

ठीक उसी समय विराट अस्पताल पहुंच जाता हैं।

विराट के खिलाफ बगावत के लिए साईं के दोस्तों ने बनाई मानव जंजीर

साईं के दोस्त कहते है कि वे विराट को साई से मिलने नहीं देंगे, क्योंकि वह साईं की हालत के लिए जिम्मेदार हैं। वे उसका रास्ता रोक देते हैं।

वे कहते हैं कि, वे सहमति पत्र उसके पास ले आएंगे और फिर विराट अपना हस्ताक्षर कर सकता है, लेकिन वे विराट को साईं को देखने नहीं दे सकते।

विराट सहमति पत्र पर हस्ताक्षर कर देता हैं। डॉक्टर, विराट को बताता है कि साई के बचने की संभावना सिर्फ 50:50 है, उसके बाद सर्जरी शुरू हो जाती है।

डीआईजी, साईं के दोस्तों से कहते हैं कि वे ठीक नहीं कर रहे हैं। वह उन्हें बताता है कि वे जो कुछ भी सोचते हैं वह एक गलतफहमी हो सकती है।

देवी भी विराट को जिम्मेदार ठहराती हैं। विराट कहता है कि वह कभी भी साईं के लिए कुछ भी बुरा नहीं चाहता है।

देवी बोलती है कि पाखी, साईं के बारे में बुरी बातें करती थीं और विराट ने भी उसे ये सब बोलने दिया। देवी कहती है कि अब विराट और पाखी दोनों बहुत खुश होंगे। वह पुलकित से कहती है कि विराट को साईं से न मिलने दें।

देवी कहती हैं कि उन्हें विराट पर बहुत गर्व हुआ करता था, लेकिन अब वह सबसे खराब हैं। वह कहती है कि वह विराट से कभी बात नहीं करेगी।

साई को खोने के डर से चिंता में विराट

पुलकित, विराट को बताता है कि साईं की दुर्घटना के बाद देवी का दिल टूट गया है। सम्राट कहता हैं कि उन्हें देवी को घर भेजना चाहिए। पुलकित, सनी से देवी को घर ले जाने के लिए कहता है।

यह भी पढ़े: साईं की बेजान हालत से सदमे में विराट

विराट ने साई को बचाने के लिए भगवान से प्रार्थना की और साईं को अब और परेशान नहीं करने का वादा किया। वह कहता है कि वह साईं से दूर चला जाएगा।

अश्विनी उसे साईं से दूर न जाने के लिए कहती है, क्योंकि जब भी वे दोनों अलग होते हैं, उनमें से एक को खतरा हो जाता है।

पाखी अनुचित फायदा उठाने की कोशिश में

विराट चिंतित बैठा हैं, पाखी उसके पास आती है और उसे उम्मीद न खोने के लिए कहती है। वह कहती है कि साई ठीक हो जाएगी। विराट कहता है कि वह साई को खोना नहीं चाहता हैं।

पाखी उसे उससे बात करने के लिए कहती है, ताकि वह बेहतर महसूस करे। साई की इस हालत के लिए विराट खुद को जिम्मेदार मानता हैं। वही पाखी कहती है कि साईं इतने दिनों से असामान्य व्यवहार कर रही थीं, और उसने देवी का इस्तेमाल भी किया।

यह भी पढ़े: सर्जरी के बाद विराट से मिलना चाहते हैं साईं

विराट बोलता है कि उसकी चिंता इस बात पर निर्भर नहीं करती कि कौन जिम्मेदार था, और वह कभी नहीं चाहता कि साईं मुसीबत में पड़ें। वह कहता है कि वह वास्तव में साईं की परवाह करता है।

एपिसोड समाप्त

दोस्तों, क्या साई का एक्सीडेंट विराट और साई को नज़दीक ले आयेग? या वह दोनों हमेशा के लिए दूर हो जाएंगे?

क्या पाखी इस परिस्तिथि का फायदा उठा कर खुद को विराट के नज़दीक कर लेगी? प्लीज अपने विचार निचे कमैंट्स में बताएं।

आगे क्या होगा, जानने के लिए मिलते है अगले एपिसोड में.. 

Post a Comment

Previous Post Next Post