Anupama 16 November 2021 Spoiler Alert – Baapuji Ka Maan Wapas Dilaane Ke Liye Anupama Aur Kavya Aaye Ek Saath

अनुपमा सीरिअल अपडेट - टीवी से 24 घंटे पहले

Anupama 16 November 2021 Spoiler Alert – Baapuji Ka Maan Wapas Dilaane Ke Liye Anupama Aur Kavya Aaye Ek Saath

Anupama-16-November-2021-Spoiler-Alert-Baapuji-Ka-Maan-Wapas-Dilaane-Ke-Liye-Anupama-Aur-Kavya-Aaye-Ek-Saath

अनुपमा 16 नवंबर 2021 स्पॉयलर अलर्ट - बापूजी का मान वापस दिलाने के लिए अनुपमा और काव्य आये एक साथ

पिछले एपिसोड में हमने देखा की, बा अनुपमा के डांस एकडेमी में देखती है की सारा परिवार कितना खुश है और सभी अनुपमा और अनुज के साथ मिल कर नाच रहे है। 

बा से यह बिलकुल भी बर्दाश्त नहीं होता की आज दिवाली है और उसके घर में अंधेरा है, वनराज घर पर नहीं है इस लिए उसकी बहु काव्य दिवाली पर अकेली है, उसका पोता तोषु अकेला रह गया है और यहाँ तक की बा तक इस दिवाली पर अकेली है। 

लेकिन इस बार बा ने पूरा दोष अनुपमा पर नहीं, बल्कि बापूजी पर लगा दिया और अपनी सारी हदे पार करदी। बा ने सब के सामने बापूजी की बेज़्ज़ती करते हुए उनसे कहाँ की, यह कारखाना आपको दिया है आपके बापूजी ने - आपने क्या किया है?

यह भी पढ़े: बा को भरनी पड़ेगी बापूजी के अपमान की बड़ी कीमत

वनराज को छोटी उम्र से ही घर का सारा बोझ अपने ऊपर लेना पड़ा, क्यूंकि उसका बाप घर का भार उठाने के लायक नहीं था। आप ना कभी अच्छे बाप बन पाए और ना ही अच्छे पति - आप कल भी फ़ैल थे और आज भी फ़ैल है। 

अगर वनराज नहीं होता तो हम दोनों इस उम्र में किसी वृद्धा आश्रम में बर्तन मांज रहे होते। यह सब सुन कर अनुपमा, डॉली और संजय, बा को शांत करने की कोशिश करते है, लेकिन वो सभी को फटकार लगाती है और सभी की बोलती बंद कर देती है। 

हद तो तब होती है जब, बा के भाई जब उन्हें चुप रहने की बात करते है तो बा उन्हें सबके सामने थप्पड़ मार देती है और यह देख जीके बीच में पड़ने की कोशिश करता है, तो बा उन्हें भी नौकर कह कर चुप करा देती है। 

बा के दिल में जो ज्वाला मुखी था, वो पूरी तरह फट गया - इसके बाद बा ग़ुस्से में अनुपमा के डांस एकेडमी में तोड़ फोड़ शुरू कर देती है और अनुपमा की लगी हुई तस्वीर भी फाड़ देती है। सभी लोग बा को रोकने की पूरी कोशिश करते है, लेकिन आज बा नहीं रूकती। 

इतना सब करने के बाद भी बा का पेट नहीं भरता और वह बापूजी को जलील करते हुए सभी के सामने उन्हें कहती है की आज के बाद घर पर और कारखाने पर सिर्फ उनका राज होगा और बापूजी आज से एक गूंगे गुड्डे की तरह रहेंगे। और सिर्फ हाँ में सर हिलाएंगे। 

बा बापूजी को घर लेजाने की कोशिश करती है लेकिन बापूजी घर जाने से मना कर देते है, और इतनी बेज़्ज़ती के बाद बापूजी पूरी तरह टूट जाते है और वहीँ गिर पड़ते है, सभी परिवार वाले उनकी मदद के लिए आगे आते है। 

बापूजी का मान वापस दिलाने के लिए अनुपमा और काव्य आये एक साथ:-

अनुपम बापूजी से कहती है की उसकी बेटी अभी ज़िंदा है और बापूजी को लेकर वहाँ से चली जाती है और उनके साथ सारा परिवार भी वहाँ से चला जाता है। सिर्फ बा, काव्य और तोषु रह जाते है। 

अनुपमा कहती है की आज में अपने बापूजी को अपना घर दूंगी। वहीँ शाह हाउस में अँधेरा है जबकि सभी लोग दिवाली मना रहे है और बा अँधेरे में अकेले ग़ुस्से में झूला झूल रही है। इन सब ड्रामे से काव्य भी बहुत घबराई हुई है की वनराज के घर लौटने से पहले उसे सब ठीक करना होगा और बापूजी को घर वापस लाना होगा। 

दूसरी ओर अनुपमा अनुज से कहती है की, उसे उसके बापूजी का मान सम्मान उन्हें वापस दिलाना होगा, जिसके वह हक़दार है। 

क्या बापूजी का मान सम्मान वापस दिलाने के लिए अनुपमा और काव्य एक साथ आएंगे?

क्या पहले की तरह फिर से सब कुछ ठीक हो पायेगा? क्या शाह परिवार कभी फिर से एक हो पायेगा?

प्लीज अपने विचार नीचे कमैंट्स में बताये। 

ऐसे ही मज़ेदार अपडेट्स पाने के लिए आप हमें हमारे फेसबुक पेज पर फॉलो करे।

यह भी पढ़े:

Post a Comment

Previous Post Next Post