Ghum Hai Kisikey Pyaar Mein 5 November 2021 Written Update - Ninad Ko Virat Ke Paida Hone Par Afsoos Hai

Ghum Hai Kisikey Pyaar Mein 5 November 2021 Written Update - Ninad Ko Virat Ke Paida Hone Par Afsos Hai

Ghum-Hai-Kisikey-Pyaar-Mein-5-November-2021-Written-Update

गुम है किसी के प्यार में 5 नवंबर 2021 रिटन अपडेट - निनाद को विराट के पैदा होने पर अफ़सोस है

आज के एपिसोड की शुरुवात में निनाद कोई भी सालगिरह मनाने से मना कर देता है और कहता है की उसे अश्विनी के लिए कुछ भी महसूस नहीं होता और अपनी शादी पर उसे अफ़सोस है।

इस पर मौके का फायदा उठाते हुए ओंकार कहता है की, इससे कोई फरक नहीं पड़ता की निनाद को अच्छा लगता है और क्या नहीं, अगर सई ने सोच लिए है की शादी की सालगिराह मनाई जायेगी तो ऐसा ही होगा। 

निनाद जो पहले से ही ग़ुस्से से लाल है और भड़क जाता है और सभी को कड़क शब्दों में बोल देता है की कोई भी शादी की सालगिराह नहीं मनाएगा और वो उस पार्टी का हिस्सा भी नहीं बनेगा। 

निनाद की बात सुन कर अश्विनी के आँखों में आँसू आ जाते है और वह विराट से कहती है की उसके बाबा ठीक कह रहे है। जब उनके रिश्ते में कुछ बचा ही नहीं है तो शादी की सालगिराह मनाने का क्या मतलब। 

अश्विनी और निनाद की बात सुन कर जैसे विराट का दिल ही टूट जाता है, वह निनंद और अश्विनी दोनों से दिल दहलाने वाला सवाल करता है।

विराट पूछता है की अगर आप दोनों को अपनी शादी पर अफ़सोस है और आपके रिश्ता का कोई अर्थ ही नहीं है, तो क्या मेरे जन्म पर भी आपको अफ़सोस है? आप लोगो के जीवन में मेरा कोई अर्थ है?

अगर आप दोनों को इस शादी से इतना अफ़सोस है तो मुझे इस दुनिया में ले कर ही क्यों आये? विराट के दिल का दर्द पूरी तरह से बहार आ जाता है और यह देख सभी सन्न रह जाते है। 

सई और अश्विनी विराट को संभालने आते है, अश्विनी फुट फुट कर रोने लगती है और विराट को गले लगा कर कहती है की उसके जीवन में शादी के बाद सबसे अच्छी चीज़ जो हुई है वो विराट का जन्म ही है। 

अश्विनी को ख़ुशी भी है और साथ ही गर्व भी की विराट उसका बेटा है। इस पर मानसी निनाद से कहती है की, अश्विनी ने तो विराट के सवाल का जवाब दे दिया है, क्या तुम कुछ नहीं बोलोगे?

सभी की निगाहें निनाद की तरफ है की वो क्या जवाब देगा।

निनाद भावुक होते हुए कहता है की उसे विराट पे बहुत गर्व है की वह उसका बेटा है और एक बहुत अच्छा पुलिस वाला भी। वह विराट से पूछता है की वह उससे ऐसा सवाल कैसे कर सकता है। 

इस पर विराट निनाद को कहता है की, एक पिता अपने बेटे को सबसे अच्छी चीज़ अगर कुछ दे सकता है तो उसकी माँ को प्यार और सम्मान। जो निनाद नहीं कभी अश्विनी को नहीं दिया। 

फिर सम्राट भी कहता है की आज तक विराट ने निनाद से कोई भी सवाल नहीं किया, लेकिन अगर आज उसने अपने जन्म पर सवाल उठाया है तो इससे पता चलता है की विराट के दिल में कितना दर्द होगा। 

तभी भवानी भी कहती है की, जिस शादी से विराट जैसा अच्छा बेटा इस घर को मिला हो उस शादी पे कोई कैसे अफ़सोस कर सकता है और वह सम्राट और विराट दोनों को अपना बेटा मानती है और कहती है की निनाद भी विराट से बहुत प्यार करता है भले ही वो अश्विनी से प्यार न करता हो। 

विराट के लिए अपने प्यार को साबित करने के लिए निनाद कुछ भी करने के लिए तैयार हो जाता है। लेकिन कुछ अच्छे लोग है (ओंकार, सोनाली और पाखी) जिन्हें दुसरो की खुशियां अच्छी नहीं लगती। वह निनाद को भड़काने की पूरी कोशिश करते है, लेकिन निनाद ने मन बना लिया है की वो विराट के लिए कुछ भी करेगा। 

एक पिता माँ की तरह अपना प्यार अपने बच्चो पे नहीं दिखा पता, लेकिन प्यार तो एक पिता भी बहुत करता है अपने बच्चो से और निनाद भी यही साबित कर देगा। 

निनाद शादी की सालगिराह मनाने के लिए मान जाता है और इस से विराट और बाकी परिवार वाले खुश हो जाते है। निनाद कहता है की वो यह सिर्फ उसके लिए कर रहा है और उससे कोई ज़्यादा उम्मीद न रखे। 

इसके बाद विराट अपने कमरे में बैठ कर सारी पुरानी बातों के बारे में सोच रहा होता है की तभी सई वहाँ विराट के लिए खाना ले कर आती है। सई विराट से अपने दिल की बात उससे कहने के लिए बोलती है। 

सई विराट के आँसू पोछती है और उसे अपने हाथो से खाना खिलाती है। विराट कहता है की वह खुद से बहुत ग़ुस्सा है की उसने अपने माँ के सम्मान के लिए स्टैंड लेने में इतनी देरी क्यों की, वो एक अच्छा बेटा नहीं है।  

सई विराट को समझती है की कभी कभी जीवन में हमें ऐसी इस्तिथि से निपटने के लिए एक झटके की ज़रूरत होती है। विराट कहता है की सई ने इस मामले में उसकी आँखे खोल कर बहुत अच्छा काम किया है, जो वो एक बेटा हो कर कभी नहीं कर पाया। 

सई कहती है की अश्विनी उसकी भी माँ है और वो खुश है की आज विराट ने अपनी माँ के सामान के लिए स्टैंड लिया। विराट कहता है की उसे पता है, की निनाद के दिल में बहुत प्यार है लेकिन वो अपनी माँ से प्यार करने के लिए जबरदस्ती नहीं कर सकता। 

यह कहते ही विराट भावुक हो जाता है और रोने लगता है, सई विराट को गले लगा लेती है। 

एपिसोड समाप्त।

अब यह प्यार नहीं तो और क्या है। .. 

क्या विराट और सई निनाद के दिल में अश्विनी के लिए प्यार जगा पाएंगे?

या घर के शरीफ का निनाद और अश्विनी के बिच फूंक डालने में कामयाब हो जाएंगे?

इन् सवालो के जवाब जाने के लिए मिलते है अगले एपिसोड के सात rocknroll.in पर।

यह भी पढ़े:

Post a Comment

Previous Post Next Post