उडारीयां Udaarian Hindi Lyrics - Satinder Sartaaj

Udaarian Lyrics in Hindi from the album Seasons of Sartaaj. This is a Punjabi romantic song is written and sung by Satinder Sartaaj music composed by Jatinder Shah.

Udaarian-Hindi-Lyrics-Satinder-Sartaaj

Song TitleUdaarian
SingerSatinder Sartaaj
LyricsSatinder Sartaaj
MusicJatinder Shah
Music LabelSaga Music

 

उडारीयां Udaarian Hindi Lyrics

 

हो लावां इश्क़ दे अंबरी उडारीयां
सानू प्यार दी आ चडियाँ खुमारियाँ

हो लावां इश्क़ दे अंबरी उडारीयां
मैनु प्यार दीयां चडियाँ खुमारियाँ
मैनु प्यार दीयां चडियाँ खुमारियाँ

हाँ मेरे पैर ना ज़मीन उत्थे लगदे
पैर ना ज़मीन उत्थे लगदे
लख चश्मे मोहब्बतआँ दे वांगदे


हो राती मीठे मीठे सपने वाई ठगड़े
ना गल मेरे वसदी रही
ना गल मेरे वसदी रही

हो किसी ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया
ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया
चाऊंदे होए वी ना दिल रुक सकेया


गया पैर इश्क़ दे विच रखेया
ना गल मेरे वसदी रही
ना गल मेरे वसदी रही

हो किसी ऐसी आन निगाहां मैनु तक्केया
हो नवा भावां’च समेट कायनात मैं
दस्सा केनु केनु इश्क़े दी बात में


हो नवा भावां’च समेट कायनात मैं
दस्सा केनु केनु इश्क़े दी बात मैं
दस्सा केनु केनु इश्क़े दी बात मैं

हाँ रंग फुल्लां दा वी होर गुडा हो गया
फुल्लां दा वी होर गुडा हो गया


पानी प्यार वाला पत्तियाँ नू धो गया
अज्ज उसदा दीदार मैनु हो गया


ना गल मेरे वसदी रही
ना गल मेरे वसदी रही

हाँ किसी ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया
ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया


चाऊंदे होए वी ना दिल रुक सकेया
गया पैर इश्क़ दे विच रखेया


ना गल मेरे वसदी रही
ना गल मेरे वसदी रही

हो किसी ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया

बड़ी लम्बी ऐ कहानी मेरे प्यार दी
हो बड़ी लम्बी ऐ कहानी मेरे प्यार दी


आवे संग जदों शीशा में निहारदी
आवे संग जदों शीशा में निहारदी


आँख लायी ना ओड़ों दी कंघी वायी ना
लायी ना ओड़ों दी कंघी वायी ना


ना ही दस्स हूँदी जाँदी वाई छपायी ना
कही नैना ने समझ ओहनु आयी ना


ना गल मेरे वसदी रही
ना गल मेरे वसदी रही

हो किसी ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया
ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया


चाऊंदे होए वी ना दिल रुक सकेया
गया पैर इश्क़ दे विच रखेया


ना गल मेरे वसदी रही
ना गल मेरे वसदी रही

हो किसी ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया

निगाह जिसते सवली होवे रब दी
हो निगाह जिसते सवली होवे रब दी


सच्चे इश्क़े दी लाग ओहनु लगदी
हो निगाह जिसते सवली होवे रब दी


सच्चे इश्क़े दी लाग ओहनु लगदी
सच्चे इश्क़े दी लाग ओहनु लगदी

हाँ रोम रोम’च सतींदर है वस्से आ
रोम रोम’च सतींदर है वस्से आ


मेरी अपनी पराँदी मैनु दस्से आ
जदों तक मैनु मिलना जहा हस्से आ


ना गल मेरे वसदी रही
ना गल मेरे वसदी रही

हो किसी ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया
ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया


चाऊंदे होए वी ना दिल रुक सकेया
गया पैर इश्क़ दे विच रखेया


ना गल मेरे वसदी रही
ना गल मेरे वसदी रही

हाँ किसी ऐसीआँ निगाहां मैनु तक्केया


हो...

 

More Hindi Lyrics:


Post a Comment

Previous Post Next Post